Search This Blog

Saturday, 21 January 2012

शर्मसार करता संबंध....



भ्रष्टाचार के खिलाफ लडाई लडने के लिए तो हम आंदोलन छेड सकते हैं लेकिन घर-परिवार के बीच घटने वाली घटनाओं का क्या करें। ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जिससे लगता है कि सामाजिक व्यवस्था चरमरा सी गयी है। क्या शहर क्या गांव हर जगह का कमोबेश वही हाल है। आए दिन वहां घटने वाली घटनाएं भी कम विचलित करने वाली नहीं होती। रिश्ता-नाता, उम्र तक को लोग भूलने लगे हैं। गाजियाबाद और दादरी में घटित दो घटनाओं ने तो एक बार फिर जख्म को हरा कर दिया है और सोचने को मजबूर कर दिया है

गाजियाबाद। यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि सच्ची घटना है जिसके मुताबिक एक महिला बेटे की उम्र के के साथ घर से भाग गई। महिला विजय नगर के राहुल विहार में रहती थी और तीन बच्चों की मां हैं। महिला की उम्र 35 साल है जबकि लडके की उम्र महज 17 साल है। वह 10वीं का स्टूडेंट है। ये दोनों 23 मार्च से घर से भागे हुए हैं और दोनों के परिजन काफी सरगर्मी से तलाश कर रहे हैं।
पति ने अपनी पत्नी के साथ फरार हुए स्टूडेंट के खिलाफ विजय नगर थाने में तहरीर दी हैं, जबकि स्टूडेंट के पिता ने एसएसपी से मिलकर अपने बेटे को बहला-फुसलाकर ले जाने का आरोप महिला पर लगाया हैं। एसएसपी ने बताया कि थानाध्यक्ष को पहले स्टूडेंट की उम्र के बारे में पता करने और फिर कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।
ग्रेटर नोएडा। एक जुआरी जुए में अपनी पत्नी को दांव पर लगाकर हार बैठा। जुए में हारने की बात पता चलने पर नाराज महिला मायके चली गई। अब महिला और उसके मायके वाले रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए दो थानों के बीच चक्कर काट रहे हैं।

मामला दादरी कोतवाली एरिया के खटाना गांव का है। यहां की निवासी राजकली की शादी वर्ष 2005 में ग्रेटर नोएडा के कुलेसरा निवासी कुशलपाल से हुई थी। कुशलपाल नोएडा की एक कंपनी में गाड़ी चलाता है। वह जुआ खेलने का आदी है। राजकली ने बताया कि एक माह पहले वह मायके से खटाना आ गई थी। इसी दौरान उसका पति 6 हजार रुपये और दो मोबाइल फोन हार गया। बाद में उसने राजकली को दांव पर लगा दिया और उसे भी हार गया। जुआ जीतने वालों के प्रेशर में वह 2 अप्रैल को पत्नी को लाने अपने ससुराल पहुंच गया। घर आने पर पड़ोस में रहने वाली महिला ने उसे जुए में हारने की जानकारी दी। कुछ देर बाद जुआ जीतने वाले लोग उसके घर पहुंच गए। लोगों को देख महिला घर के पीछे वाले गेट से निकलकर मायके आ गई।

परिजनों ने इसकी शिकायत सूरजपुर कोतवाली में की, लेकिन पुलिस ने जारचा कोतवाली का मामला बताकर कार्रवाई करने से इनकार कर दिया। उधर, जारचा कोतवाली पुलिस ने मामला सूरजपुर का बताकर पल्ला झाड लिया। तभी से पीड़ित पुलिस के चक्कर काट रहे हैं। अभी मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। एसपी देहात राकेश कुमार जौली के मुताबिक मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही मामले की रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a comment